news-details
State

भोपाल: धरने पर बैठे किसानों को पुलिस ने देर रात उठाया

देश के किसानो को अलग-अलग प्रदेशों  समर्थन मिल रहा है, जो किसान दिल्ली के बॉर्डर पर पहुंच नहीं सकते वह अपने प्रदेश में ही बैठ कर धरना दे रहे है, मध्यप्रदेश के भोपाल में भी कुछ ऐसा ही हो रहा है, किसान प्रदर्शन कर रहे थे जिसको शुक्रवार देर रात पुलिस ने हटा दिया, मिली  जानकारी की माने तो मौके से पुलिस टेंट और माइक भी खोलकर ले गए. 

यह भी पढ़े : भारत ने कई देशों में भेजी कोविड-19 वैक्सीन, अमेरिका ने बताया सच्चा मित्र 

 अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा मध्य प्रदेश के संयोजक विजय कुमार ने बताया कि किसान आंदोलन के समर्थन में भोपाल के करोंद कृषि उपज मंडी के गेट के सामने संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में चल रहे शांतिपूर्ण धरने को आधीरात में बलपूर्वक हटाया गया है। यह बेहद शर्मनाक है, वह बोले कि यह कार्रवाई सरकार के किसान विरोधी चेहरे को उजागर करती है।

 शिवराज सरकार के इस तानाशाही पूर्ण रवैए की हम भर्त्सना करते हैं। अपने आप को किसान कहने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान किसानों को विरोध दर्ज कराने का अधिकार भी नहीं दे रहे हैं। मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन का बलपूर्वक दमन किया जा रहा है।

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments