news-details
lifestyle

World Arthritis Day: गठिया के रोगों से हैं परेशान,  इन चीज़ों को खाने से करें परहेज  

हर साल 12 अक्टूबर को पूरी दुनिया में वर्ल्ड आर्थराइटिस डे मनाया जाता है. इसका मकसद लोगों को इस बीमारी के प्रति जागरूक करना है. आर्थराइटिस यानी गठिया के मरीजों को घुटनों, एड़ियों, पीठ, कलाई या गर्दन के जोड़ों में दर्द होता है.

यह भी पढ़ें : कोरोना : स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किया नया प्रोटोकॉल, Emergency में कर सकते हैं इन दवाओं का प्रयोग

 ये बीमारी अक्सर 50 साल के बाद लोगों में होती है लेकिन खराब लाइफस्टाइल की वजह से युवा भी इसकी चपेट में आ रहे है. खाने-पीने की आदत में सुधार कर इससे बचा जा सकता है. अगर आप गठिया के मरीज हैं तो खाने में इन चीजों से दूरी बना लें. 

एडेड शुगर- अगर आप गठिया के मरीज हैं तो आपको अपने खाने में मीठे की मात्रा कम करनी होगी, खासतौर से आपको एडेड शुगर कम करना होगा. एडेड शुगर, कैंडी, सोडा, आइसक्रीम और बारबेक्यू सॉस जैसी चीजों में पाया जाता है. 217 लोगों पर की गई एक स्टडी के अनुसार मीठा सोडा और डेसर्ट्स गठिया के लक्षणों को और बढ़ाने का काम करते हैं. 

प्रोसेस्ड फूड- फास्ट फूड, अनाज और बेक्ड फूड जैसे प्रोसेस्ड आइटम में रिफाइंड अनाज, एडेड शुगर, प्रिजर्वेटिव्स और ऐसी चीजें पाई जाती हैं जो शरीर में सूजन बढ़ाने का काम करती हैं और इससे गठिया का खतरा बढ़ जाता है. रिसर्च से पता चलता है कि प्रोसेस्ड फूड खाने से मोटापा तेजी से बढ़ता है जो गठिया को भी बढ़ाता है.

यह भी पढ़ें : टैटू बनवाने का है रखते हैं शौक तो हो जाएं सावधान, दिल की सेहत पर पड़ सकता है भारी

ग्लूटेन फूड- गेहूं, जौ और राई में ग्लूटेन प्रोटीन पाया जाता है. कुछ रिसर्च में पता चला है कि चीजें गठिया को बढ़ाने का काम करती हैं जबकि ग्लूटेन फ्री फूड गठिया के लक्षणों को कम करने का काम करती हैं. सीलिएक रोग वाले मरीजों में गठिया होने की ज्यादा संभावना होती है. एक स्टडी के मुताबिक ग्लुटेन फ्री और शाकाहारी खाने वालों में गठिया के मामले बहुत कम पाए गए. 

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments