news-details
State

हिंदुत्व पर RSS प्रमुख के विचार व्यापक : शिवसेना

मंगलवार को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के हिंदुत्व पर विचारों को शिवसेना ने व्यापक और समग्र बताया, बता दें कि पार्टी ने कहा कि उन्होंने उन लोगों को करारा जवाब दिया है जो समझते हैं कि जो लोग भारतीय जनता पार्टी के साथ नहीं हैं, वो हिंदू नहीं हैं, शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' में लिखा, 'वह टीके के विकास में निवेश के पक्षधर रहे हैं। चीन से फैली भयानक महामारी के दौरान भारतीय जनता पार्टी के जो नेता मंदिरों को खोलने के पक्षधर रहें हैं उन्हें पहले भागवत को सुनना चाहिए।

 यह भी पढ़े : IBPS PO में निकली है बंपर भर्ती, आज से करें आवेदन

वहीं संपादकीय में लिखा गया है कि , 'कुछ ठेकेदारों की विकृत विचारधारा है कि हिंदुत्व पर उनका एकाधिकार है और जो लोग भाजपा के साथ नहीं हैं, वे हिंदू नहीं हैं। आरएसएस प्रमुख ने उन्हें उनका स्थान दिखा दिया है। 

यह भी पढ़े : भाजपा को उद्धव ठाकरे की चुनौती 'हिम्मत है तो मेरी सरकार गिरा के दिखाओ'

नागपुर में आरएसएस के वार्षिक दहशरा उत्सव पर भागवत ने कहा था कि हिंदू राष्ट्र की संघ की अवधारणा न तो राजनीतिक है न ही शक्ति केंद्रित। उन्होंने दावा किया था कि हिंदुत्व शब्द भारत की 130 करोड़ आबादी पर लागू होता है जो भारत के साथ अपनी पहचान, परंपराओं और मूल्यों से जुड़े हुए हैं।

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments