news-details
State

शीतल आमटे आत्महत्या मामले में जांच के लिए नागपुर से बुलाई गई स्पेशल टीम

बाबा आमटे की पोती और सामाजिक कार्यकर्ता शीतल आमटे सुसाइड मामले में जांच पहले से और भी तेज़ कर दी गई है, बता दें कि पूरे मामले की जांच के लिए महाराष्ट्र के नागपुर से स्पेशल टीम बुलाई गई है जिसके बाद शीतल आमटे की फॉरेंसिक जांच की जारी है, आप को बता दें  कि इसकी जानकारी देते हुए एसपी ने बताया कि जांच के साथ-साथ उन्हें पोस्टमार्टम के बाद इस सुसाइड केस में सहायता मिलेगी। 


लेकिनं फिलहाल आकस्मिक मौत का मामला दर्ज कर लिया गया है, कुष्ठ रोगियों के लिए आनंदवन संस्था चलाने वाले डॉक्टर बाबा आमटे की पोती ने सोमवार तड़के  यानी 30 नवंबर को चंद्रपुर में अपने घर में सुसाइड कर लिया था। उनके सुसाइड की वजह फिलहाल अभी सामने नहीं आई है।जानकारी की मानें तो बताया जा रहा है कि शीतल ने इंजेक्शन लगा के खुद की जान ले ली। 

यह भी पढ़े : महाराष्ट्र : मंगलवार को शिवसेना की सदस्यता लेंगी अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर

कौन थी शीतल ? 

डॉक्टर शीतल आमटे महारोगी सेवा समिति की सीईओ थीं। वह पिछले कई सालों से अपने पति और परिवार के साथ एकजुट होकर कुष्ठ रोगियों की सेवा कर रही थीं। शीतल, विकास आमटे और भारती आमटे की बेटी और डॉक्टर प्रकाश आमटे की भतीजी थीं। उन्होंने सुसाइड से पहले सोशल मीडिया पर एक पेंटिंग भी शेयर की थी।, जिसमें उन्होंने कैप्शन लिखा था कि वॉर एंड पीस।

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments