news-details
State

गैंगस्टर के नाम पर मांगे करोड़ो, नौकरी से नहीं चल रहा था खर्चा 

दिल्ली में एक ऐसा मामला सामने आया, जहां 2 युवक का नौकरी के पैसों से घर नहीं चल पा रहा था, जिसके कारण उन्होंने एक गैंगस्टर के नाम से पैसा वसुलने की कोशिश कि लेकिन पकड़े गए , दरअसल पूरा मामला यह कि दोनों आरोपियों ने खुद को तिहाड़ जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर शक्ति बनकर व्यवसयायी से जल्द 2 करोड़ रंगदारी देने की मांग की थी अन्यथा गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी, मिली जानकारी की माने तो दोनों कुछ महीने पहले तक जनकपुरी में दवा वयवसायी की दुकान के पास स्थित एक दवाई की दुकान पर काम करते थे। 


नौकरी से जीवन यापन ठीक से न चलने पर जल्द अत्यधिक पैसा कमाने के उद्देश्य से इन्होंने व्यवसायी से रंगदारी वसूलने की साजिश रची और प्रयागराज से दो मोबाइल व सिमकार्ड खरीदकर वारदात को अंजाम देने की कोशिश की। लेकिन ये अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए, एडिशनल पुलिस कमिश्नर शिबेश सिंह के मुताबिक गिरफ्तार किए गए आरोपितों के नाम दीपक सहरावत व सतीश कुमार है। 

यह भी पढ़े : कोरोना : पिछले 24 घंटे में आए 17,407 नए केस, 89 लोगों की गई जान 

 उसके बाद दीपक ने गुरुग्राम से फार्मेसी में डिप्लोमा कर जनकपुरी में एक दवाई की दुकान पर नौकरी शुरू कर दी थी। वहीं पर शिकायकर्ता दवा व्यवासी की भी दुकान है। गोल मार्केट इलाके में रहने वाले गोलू उर्फ शैंकी गिरोह से दीपक काफी प्रभावित है। 

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments