news-details
State

लखनऊ: सीएए हिंसा के 5 आरोपियों से 1 करोड़ 54 लाख की रिकवरी

लखनऊ : बीते दिसंबर महीने में CAA-NRC के खिलाफ लखनऊ की सड़कों परप्रोटेस्ट के बहाने उत्पात मचाने वालों पर गाज गिरनी शुरू हो चुकी है।उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने आदेश दिया था की  जिन लोगो ने भी सड़को पर उत्पात मचा कर पब्लिक की प्रॉपर्टी का नुक्सान किया है उसकी भरपाई  उसी से करवाई जाएगी।

लखनऊ जिला प्रशासन ने हिंसा के 54 में से 5 आरोपियों से 1 करोड़ 54 लाख रुपये की रिकवरी का आदेश जारी कर दिया है। मंगलवार को हसनगंज स्थित एनवाई फैशन सेंटर समेत आरोपियों की अन्य इमारतें सील कर दी गई हैं, गुरुवार को खुर्रमनगर में हिंसा के एक अन्य आरोपी नफीस की दुकान को भी कुर्क किया गया है।

ये भी पढ़े : लखनऊ समेत पूरे प्रदेश में कल से जोर पकड़ेगी बारिश

जिला प्रशासन लखनऊ ने अब तक 5 लोगों पर कुर्की की कार्रवाई करि है , उन 5 लोगो की पहचान CCTV के जरिए करि गई थी। नफीस अहमद पर 64 लाख 35 हजार का बकाया है। नोटिस के बाद भी रकम न चुकाने पर दुकान प्रशासन ने गुरुवार को दुकान की कुर्की कर दी। सदर तहसीलदार शंभू शरण सिंह ने बताया कि सीएए विरोधी प्रदर्शनों के मामले में 54 लोगों के खिलाफ वसूली का नोटिस जारी किया था। उनमें से हसनगंज इलाके में दो संपत्तियां मंगलवार को कुर्क कर ली गईं। साथ ही.   

यह भी पढ़े : बाराबंकी: 5 शिक्षकों का फर्जीवाड़ा आया सामने, फर्जी पैन कार्ड लगाकर पा रहे थे सैलेरी

एडीएम कोर्ट ने जारी किया कुर्की का आदेश

कुर्की की यह कार्रवाई अपर जिलाधिकारी ट्रांस गोमती विश्व भूषण मिश्रा के आदेश पर की गई है। एनवाई फैशन सेंटर के सहायक भंडार प्रबंधक धर्मवीर सिंह और दूसरी दुकान के मालिक माहेनूर चौधरी सीएए विरोधी हिंसा के मामले में आरोपी हैं।  

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments