news-details
State

लखनऊ : कौशल विकास मिशन केंद्र के कार्यालय में लगी आग, कई महत्वपूर्ण फाइलें जलकर राख

लखनऊ में आए दिन आग लगने की घटनाएं सामने देखने को मिल रही हैं।  बता दें अब अलीगंज आईटीआई परिसर स्थित कौशल विकास मिशन केंद्र में रविवार दोपहर आग लग गई। अंदर से धुंआ और लपटें निकलता देख परिसर में रहने वाले लोगों ने पुलिस व फायर कंट्रोल रूम को सूचना दी। पहली मंजिल पर लगी आग को बुझाने के लिए दमकल की नौ गाड़ियों का प्रयोग किया गया। चार घंटे की मशक्कत के बाद आग काबू में आई। इस दौरान कार्यालय में रखी फाइलें, फर्नीचर और कम्प्यूटर जल गए। आग लगने के कारणों का पता लगाया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें : लखनऊ पुलिस कमिश्नर हुए कोरोना संक्रमित, सांसद ब्रजभूषण शरण सिंह भी पॉजिटिव
  
मुख्य अग्नि शमन अधिक विजय सिंह के मुताबिक 11.45 बजे फायर कंट्रोल रूम पर आग लगने की सूचना आई थी। अग्नि शमन कर्मियों को तत्काल मौके के लिए रवाना किया गया। रविवार और दशहरे की छुट्टी होने के चलते कार्यालय बंद था। पहली मंजिल से आग की तेज लपटें उठ रहीं थीं। आग को काबू करने के लिए दरवाजा तोड़ कर अंदर दाखिल होना पड़ा। इस बीच आग तेजी से फैलने लगी। फाइलें और फर्नीचर जलने से चारों तरफ धुआं फैल गया था। बिजली सप्लाई भी बंद थी। जिसकी वजह से कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। 

आक्सीजन सिलेंडर लेकर गये अग्निशमन कर्मी
पूरा मंजिल धुएं से भर गया था। आग पर काबू पाने के लिए अग्निशमन कर्मियो को गैस मास्क और आक्सीजन सिलेंडर लेकर जाना पड़ा। जिसके बाद राहत कार्य शुरू हुआ। सीएफओ ने बताया कि अलमारियों में रखी फाइलों पूरी तरह से जल चुकी थीं।आफिस चारों तरफ से बंद था। ऐसे हालात में खिड़कियों के कांच तोड़ कर आग पर काबू पाने की कोशिश की गई।इस प्रयास में कई दमकल कर्मी चोटिल भी हुए।  शुरुआती जांच में आग शार्ट सर्किट के कारण लगने का अंदेशा है।

आफिस बंद होने पर ही कैसे लगी है आग?
आग लगने की घटना सवालों के घेरे में है आखिर इस कार्यालय में आग लगने की घटना अवकाश के दिन ही होती है। 18 मई 2016 को भी कौशल विकास मिशन के दफ्तर में आग लगी थी। जिसमें आधा दर्जन कम्प्यूटर और कई फाइलें जलीं थीं।हादसा सुबह 8.30 बजे के करीब हुआ था। सबसे ज्यादा नुकसान फाइनेंस विभाग को हुआ था। ऐसे में चार साल बाद दशहरे की छुट्टी के दिन फिर से आग लगना और महत्वपूर्ण फाइलों का जलना महज इत्तेफाक है या  साजिश। इस बारे में कौशल विकास मिशन के अधिकारी बोलने को तैयार नहीं है। इतना बड़ा हादसा होने के बाद भी अधिकारी सूचना मिलने के काफी देर बाद मौके पर पहुंचे। तब तक काफी नुकसान हो चुका था।

यह  भी पढ़ें : लखनऊ : ऐशबाग में जलाया गया 70 फुट के पुतले का रावण, दिनेश शर्मा भी रहे मौजूद
 
कैसे लगी आग...होगी जांच
कौशल विकास मिशन के दफ्तर में आग किन परिस्थितियों में लगी। इसकी पड़ताल के लिए एक कमेटी गठित की जा रही है।यह बात कौशल मिशन के निदेशक कुणाल शिल्कु ने कही। उन्होंने बताया कि जांच रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी। उधर सीएफओ विजय सिंह ने भी एक टीम बनाई है जो आग लगने के कारण का पता लगाकर अपनी रिपोर्ट देगी। जिसे शासन को भेजा जाएगा।

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments