news-details
entertainment

A.R Rahman की मां का निधन, सोशल मीडिया पर शेयर की मां की तस्वीर 

म्यूजिक कम्पोजर ए.आर. रहमान की मां करीमा बेगम का निधन हो गया है। रहमान ने खुद अपनी मां की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है और इस खबर की पुष्टि की है। करीमा बेगम लंबे समय से बीमार चल रही थीं। ए.आर. रहमान की पोस्ट पर उनके प्रशंसक कॉमेंट कर रहे हैं और उनकी मां को श्रद्धांजलि देते हुए उन्हें सांत्वना दे रहे हैं। ए.आर. रहमान अपनी मां के बेहद करीब थे। एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि उनकी मां ने ही संगीत को लेकर उनकी प्रतिभा को पहचाना था। वह जानती थीं कि मैं भविष्य में संगीत की दिशा में आगे बढ़ सकता हूं। एआर रहमान ने चेन्नै टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा था कि मैं को संगीत की समझ थी। 

यह भी पढ़ें : कंगना के पास ट्विटर अकाउंट रखने और उस पर अपने विचार प्रस्तुत करने का है अधिकार:  बॉम्बे हाई कोर्ट

वह जिस तरह से सोचती थीं और फैसले लेती थीं, उस लिहाज से कहूं तो वह आध्यात्मिक तौर पर मुझसे कहीं अधिक ऊंचाई पर थीं। उन्होंने मुझे 11वीं क्लास में स्कूल की पढ़ाई से हटाकर संगीत की ओर बढ़ने के लिए प्रेरित किया था। यह उनकी ही सोच थी कि मैं संगीत की दिशा में जाऊं और मैं आज इस स्थिति में हूं। 

ए.आर. रहमान ने कहा था कि हमारा रिश्ता फिल्मों जैसा नहीं था, जहां मां और बेटे अकसर गले मिलते दिखाए जाते हैं। हमारे बीच एक-दूसरे के लिए काफी सम्मान रहा है। ए.आर रहमान का बचपन का नाम दिलीप था, लेकिन उन्होंने अपना धर्म बदल लिया था और ए.आर. रहमान नाम रख लिया था। ए.आर रहमान की मां ने भी धर्म परिवर्तन करते हुए इस्लाम अपना लिया था। पहले उनका नाम कस्तूरी शेखर था, लेकिन बाद में वह करीमा बेगम हो गई थीं। ए.आर रहमान के पिता का निधन तभी हो गया था, जब वह सिर्फ 9 साल के ही थे। 


यह भी पढ़ें : बॉबी देओल और प्रकाश झा को जोधपुर कोर्ट से नोटिस, ये है वजह

अपने बचपन के संघर्ष को याद करते हुए ए.आर रहमान ने बताया था कि जब मैं नौ साल का था तभी मेरे पिता का देहांत हो गया था। तब मेरी मां पिताजी के म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स को उधार पर देकर घर चलाती थीं। तब लोगों ने उन्हें इन्हें बेचने की सलाह भी दी थी, लेकिन मां ने यह कहते हुए इनकार कर दिया था कि मेरा बेटा इनका ख्याल रखेगा।

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments