news-details
sport

IPL 2020 में बने रहने के लिए जरूरी है आज का मैच जीतना, SRH से होगी टक्कर 

तीन बार के चैंपियन और पिछली बार के उप विजेता चेन्नई को अभी तक सात मैचों में से पांच में हार मिली है और अब वह जीत की राह पर लौटने के लिए बेताब है। आठ टीमों की तालिका में अभी वह सातवें स्थान पर है। मौजूदा सीजन में यह दूसरा मौका होगा, जब चेन्नई और हैदराबाद की टीमें आमने-सामने होंगी, इससे पहले धोनी की टीम सनराइजर्स से पिछले मैच में सात रन से हारी थी।

यह भी पढ़ें : IPL 2020: छोटे मैदान में RCB-KKR की होगी आज टक्कर, रोमांचक मुकाबले की है उम्मीद

धोनी टीम को आईपीएल इतिहास में लक्ष्य का पीछा करने वाली सबसे अच्छी टीम माना जाता रहा है, लेकिन इस साल अभी तक उसके बल्लेबाज ही नाकाम रहे हैं, उसे पांचों हार लक्ष्य का पीछा करते हुए मिली। शेन वॉटसन और फाफ डुप्लेसिस ने शीर्ष क्रम में अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन मध्यक्रम को अब बेहतर खेल दिखाना होगा। केदार जाधव के लगातार लचर प्रदर्शन के बाद चेन्नई ने पिछले मैच में उन्हें बाहर कर दिया था और उनकी जगह नारायण जगदीशन को चुना, कप्तान ने स्वीकार किया कि अगर उन्हें आगे मैच जीतने हैं तो बल्लेबाजों को बेहतर प्रदर्शन करना होगा। गेंदबाजी में दीपक चाहर और जडेजा अब तक प्रभावशाली रहे हैं। करन, शार्दुल ठाकुर और कर्ण शर्मा को और अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत है।

वहीं सनराइजर्स हैदराबाद की स्थिति भी बहुत अच्छी नहीं है, उसने सात मैचों में से तीन में जीत दर्ज की है और तालिका में पांचवें स्थान पर है। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ रविवार को पांच विकेट की हार से टीम आहत हुई होगी क्योंकि चार विकेट पर 158 रन बनाने के बाद एक समय उसने मैच पर अच्छा नियंत्रण बना रखा था। बल्लेबाजी सनराइजर्स के लिए चिंता का विषय नहीं है क्योंकि जॉनी बेयरस्टो, कप्तान डेविड वार्नर, मनीष पांडेय और केन विलियमसन लगातार अच्छा स्कोर बना रहे हैं और जिम्मेदारी उठाने के लिए तैयार हैं। 

यह भी पढ़ें : IPL 2020: RCB और CSK आज होंगे आमने सामने, धोनी कर सकते हैं टीम में बदलाव

गेंदबाजी उसका कमजोर पक्ष बनकर सामने आया है। तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और ऑलराउंडर मिचेल मार्श को गंवाने के बाद सनराइजर्स की गेंदबाजी कमजोर पड़ी है। लेग स्पिनर राशिद खान और यार्कर विशेषज्ञ टी नटराजन ने हालांकि उसकी तरफ से अच्छी गेंदबाजी की है, लेकिन संदीप शर्मा, खलील अहमद और युवा अभिषेक शर्मा उसकी गेंदबाजी इकाई की कमजोर कड़ी साबित हुए हैं।

You can share this post!

0 Comments

Leave Comments